मेरी कविता मेरी आवाज! — 2

**  ( भाग 2 और भाग ३ )

..करीब ४ साल पहले नासिक आकाशवाणी से प्रसारित “विविधा” मे मेरा एक छॊटा सा कार्यक्रम प्रसारित हुआ था. जिसे मैने अपने रेडिओ सेट से टेप किया था.

कार्यक्रम मे आकाशवाणी की डॊ. अनुरुचा सिंह से बातचीत की साथ ही मैने अपनी कुछ रचनाएं पढी थी….. उसमे से बातचीत के कुछ अंश हटाकर रचनाएं आपके लिये प्रस्तुत हैं . .. समय समय पर आप इन्हे पढ तो चुके हैं अब सुनिये भी!!

** उन दिनो जो मुद्दे गर्म थे, मैने उन्ही पर बात की है.

भाग 2–  बेटीनयी सदी की दुल्हन , भारतीय नारि .

भाग ३ –  युवाओं के लिये , परिचय .

———-

Published in: on जुलाई 16, 2009 at 10:20 पूर्वाह्न  Comments (12)  

The URI to TrackBack this entry is: https://rachanabajaj.wordpress.com/2009/07/16/%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%b5%e0%a4%bf%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%86%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%9c-2/trackback/

RSS feed for comments on this post.

12 टिप्पणियाँटिप्पणी करे

  1. गजब की प्रस्तुति ……..सुन्दर रचना

  2. ’नये चलन’ के विचारों को इतनी सहज शैली में प्रस्तुत करना आपकी कविता की विशेषता है । इसलिए आज-कल की खाली कविताओं से ये जुदा हैं । धन्यवाद ।

  3. Hey Rachana,
    You are talented in composing lines.
    Thanks for being at mine.

  4. 🙂🙂 i have no words to describe but must say the In depth message in the poem dedicated to daughter is something i do completely agree with.we do want to see this happen but not in our house,but padosi si ke ghar mein..as we are entering into an era of egalitarian society, hope such discrimination fades away very soon.

    God bless everyone🙂
    nabeel

  5. सुन्दर प्रस्तुति… और उतनी ही सुन्दर कवितायें।

  6. भावपूर्ण कविताओं ने भाव-विभोर कर दिया।
    बधाई!

  7. Awesome maasi. Bohot hi sundar aur gehri kavitae hai.

    Ekdum maan ko chu lene waali. Hats off to you maasi.🙂

  8. आप सभी की टिप्पणियों के लिये आभार…
    मुझे खुशी हुई ये जान कर की आपको कवितायें और प्रस्तुति पसंद आईं..

  9. रचना जी दोनो ही कवितायें बहुत प्रेरणादायक हैं, खास तौर पे युवाओं के लिये जो आपने पढ़ी।

  10. Dear sir

    your thinking is good . thank
    Ramdayal

  11. मिश्रा जी, रामदयाल जी, टिप्पणी के लिये धन्यवाद!

  12. Not agree on several issues but the whole thing, so impressive. Successful year!


एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: